June 20, 2013

धीरेश बने सब इंस्पेक्टर

द इण्डियन स्टैमरिंग एसोसिएशन (टीसा) के इंदौर स्वयं सहायता समूह के सक्रिय सदस्य रहे धीरेश धारवाल मध्यप्रदेश पुलिस में सब इंस्पेक्टर के पद पर चयनित हुए हैं। 

मध्यप्रदेश के धार जिले के एक छोटे से गांव में किसान परिवार में जन्मे श्री धारवाल ने इंदौर से इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की है।

सब इंस्पेक्टर की इस प्रतिष्ठित पद के लिए लगभग एक लाख अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी। जिसमें 185 लोगों का चयन हुआ है। धीरेश वर्तमान में 14 माह के विभागीय प्रशिक्षण पर भोपाल में हैं।



श्री धारवाल ने बताया कि लगातार टीसा के स्वयं सहायता समूह की बैठक में शामिल होने पर आत्मविश्वास जागा और हकलाहट के बारे में नए तरीके से सोचने और काम करने का अवसर मिला। इसका परिणाम यह रहा कि उन्होंने साक्षात्कार में धैर्य के साथ सभी प्रश्नों का उत्तर दिया और चयनित हुए।

धीरेश की इस सफलता ने साबित कर दिया है कि हकलाहट सपने को पूरा करने में बाधक नहीं है।
 

टीसा परिवार की ओर से बधाई और शुभकानाएं।

9 comments:

abhishek said...

badhai ho..

हेमन्त कुमार "हृदय" said...

congratulations

sachin said...

Beautiful! We need more such stories..Congrats!

IRSHAD ALI said...

congrets...

IRSHAD ALI said...

congrets....

Anand said...

धीरेश !

आप सच में बधाई के पात्र हो, आपने जो कर दिखाया वो बाकि हकलाने वालों के लिए एक प्रेरणा का स्रोत बनेगा!

आप को इस उपलब्धि के लिए बहुत बहुत मुबारकबाद.

"This is the MAGIC of TISA"
-
आनन्द

vishal gupta said...

wow..!!!! heartiest Congrats...!!!!

Joy deep Majumder said...

Congrats..focussed hard work pays, rather than blaming for what we do not have..cannot have..

jasbir singh said...

Heartiest congratulations Dhiresh. We can achieve everything in life provided we have determination.
Good luck.