August 21, 2012

Delhi SHG Report, 19/08

नमस्कार दोस्तों,

आज दिल्ली का मौसम बहुत सुहावना था, आसमान में बदल छाये थे और हल्की ठंडी हवा चल रही थी, इस वातावरण में SHG मीटिंग का मज़ा ही कुछ और होता है.
आज की मीटिंग कुल 6 लोग शामिल हुए जो की निम्नलिखित हैं:- सिकंदर, जीतेन्दर, आशीष, संचित, और आरती (बदला हुआ नाम) व उनके भाई धीरज.
आज के मीटिंग में एक नए मेंबर ने हिस्सा लिया. हम सबने आरती और धीरज का स्वागत किया और साथ ही आरती के सहास और हिम्मत की प्रशंषा की क्योंकि आमतौर पर WWS (Women who Stutter) SHG मीटिंग में हिस्सा लेने तथा अपने परेंट्स से इस विषय में बात करने में संकोच कराती हैं. तथा पूरी कोशिश करती है की किसी को यह न पता चल जाये की उन्हें कोई स्पीच प्रोब्लम है. लड़कियों का SHG में हिस्सा लेना वाकई बड़ी बात है. यह दर्शाता है की समाज बदल रहा है. तथा यह एक पॉजिटिव बदलाव का सूचक है. 
हमने मीटिंग की शुरुआत परिचय से की परिचय के बाद हमने सबसे पहले आरती से उसके स्टेमरिंग से जुड़े अनुभवों को शेयर करने के लिए कहा और उसके बाद हम सभी ने अपने नए पुराने अनुभवोँ को शेयर किया. इअके बाद सिकंदर सर ने हम सब के साथ TISA, Delhi SHG, स्टेमरिंग के संभावित कारण (जैसे की न्यूरोलोजिकल डिसऑर्डर, साइकोलोजीकल डिसऑर्डर गलत आदत इत्यादि) तथा स्टेमरिंग से सम्बंधित टेक्निक्स पर विस्तार से चर्चा की उसके बाद हम सबने आरती और धीरज के सभी सवालों के जवाब दिए.

आरती और धीरज को TISA के बारे में जानकारी अख़बार के उस अर्टिकल से मिली जो अभी कुछ दिन पहले ही नवभारत टाइमस में TISA के विषय में अमित दीक्षित के प्रयास से प्रकाशित हुआ था, इस प्रसंशनीय कार्य के लिए हम अमित जी को धन्यवाद देते हैं.

अगली मीटिंग सेंट्रल पार्क (राजीव चौक मेट्रो स्टेशन) में 26 अगस्त 2012 को होगी.
कृपया मीटिंग की सूचना हेतु SMS का इंतजार न करें क्योंकि दिल्ली में SMS पर काफी हद तक प्रतिबन्ध लग चुका  है. (5 MSG/DAY).
धन्यवाद
भवदीय
-- 
+91 7503189365
jitenderguptaa  @  gmail.com

7 comments:

amit dixit said...

thanks jitendra...and welcome Arti to Tisa family..Amit Dixit

amit dixit said...

thanks jitendra...and welcome Arti to Tisa family..Amit Dixit

sachin said...

Arti- welcome Home!

sikander said...

Thanks Jitendra for posting the report of the meeting. Meeting to cancelled ho chuki thi, par Jitendra, Aashish and Sanchit mere small si request mai, vaha meeting mai aa gaye bina kuchh jayada soche. I really appreciate that. This meeting was specially held to welcome Dheeraj and his sister to our family. They shared their expereince with us. We hope, we could provide them a plateform where you felt free to discuss their problem. Once again thanks Jitendra, Aashish and Sanchit. Looking forward to meeting you in next meeting.

Atul singh said...

Any SHG in Lucknow??

Atul singh said...

Any SHG in lucknow??

J P Sunda said...

Atul, would you like to start a SHG in Lucknow ? if yes, email us at info[at]stammer.in